सफलता के 6 दुश्मन, Enemy of Success on Hindi, safalta ke dushman,

सफलता के 6 दुश्मन। – Enemy of Success on Hindi

Sharing is caring!

सफलता के 6 दुश्मन। – Enemy of Success on Hindi. हम चाहे किसी भी काम को करने में सफलता पाना चाहते हो उसमें हमें कई मुसीबतों का सामना करना पड़ता है जिन को हराकर ही हम सफलता प्राप्त कर पाते हैं। मैं आज इस पोस्ट में ऐसे 6 बाधाओं और समस्याओं की बात करने जा रहा हूं जिनका सामना करना आपको सफलता हासिल करने में मदद कर सकता है।

सफलता के 6 दुश्मन। – Enemy of Success on Hindi

1. Fear

कई लोग सिर्फ असफल होने के डर से कभी शुरुआत ही नहीं करते। वे अपने सपनों की ओर कदम बढ़ाने से डरते हैं। उन्हें डर होता है कि अगर सफल नहीं हो पाए तो लोग क्या कहेंगे या career नहीं बन पाएगा। क्योंकि हमें कहीं ना कहीं यह लगता है कि हमारे फ्यूचर पर असर पड़ेगा अगर हम अपने सपनों पर ज्यादा समय और मेहनत लगाते हैं तो।

हमे शुरू से ही सिखाया जाता है कि हमें पढ़ाई करनी है फिर जॉब करनी है, और कैरियर बनाना है। और यह प्रोसेस हमे सही और secure लगने लगता है और जब हम सफलता पाने के लिए इससे हटके कुछ करने लगते हैं तो हम safe और secure महसूस नहीं करते। जिस कारण हम सफलता के रास्ते पर कदम बढ़ाने से डर जाते हैं।

पर एक बात याद रखना आप डर पर जीत पा सकते हो लेकिन पछतावे पर कभी नहीं। तो बाद में पछतावा न करना पड़े इसलिए अभी डर को हराने पर काम करे।

2. अंजाना पन

मान लीजिए आप किसी ऐसी जगह पर जा रहे हैं जिसके बारे में आपको कुछ नहीं पता तो आप वहां जाने से हिचकिचाएंगे क्योंकि आप को पता नहीं होगा कि आपको वहाँ किन किन परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। इसी कारण हम अनजान रास्ते पर जाने से डरते हैं और सफलता का रास्ता भी अंजाना ही होता है क्योंकि बहुत कम लोग उस रास्ते पर चलते हैं। तो वही अंजाना पन आपको उस रास्ते में सफर की शुरुआत करने से रोक लेता है।

3. Perfection

आप हर काम में परफेक्ट नहीं हो सकते। अगर आप कोशिश करते हैं हर काम को बिल्कुल परफेक्ट करने का तो आप केवल समय की बर्बादी कर रहे हैं। अगर आप हर काम को परफेक्ट करने की सोचेंगे तो आप ख्याली गलतियों के बारे में सोचेंगे जो असल में कभी हुई ही नही।

हर काम को परफेक्ट करने की सोच रखने वाले लोग अपने जरूरी काम में और वह काम जो ज्यादा जरूरी नहीं है उनको बराबर का दर्जा देते हैं। जिसके कारण वह अपना कीमती समय फालतू के कामों में खर्च कर देते हैं।

तो perfection को गोली मारो और अपने मुख्य कामों को priorities करो और मेहनत करो सफलता हासिल करने के लिए।

[su_box title=”Also read..” box_color=”#000000″ radius=”5″]ये आदते आपको बनाएंगी Super Successful / 29 Habits of successful people In Hindi.[/su_box]

4. Comparing yourself

यह आम बात है कि हम खुद को दूसरों से compare करते हैं क्योंकि इससे हम पता लगा सकते हैं कि हम सही दिशा में बढ़ रहे हैं या नहीं और खुद को improve कर सकते हैं। लेकिन हमेशा खुद को दूसरों से compare करना आपको demotivate कर सकता है जो हमे अपने लक्ष्य से दूर कर देता है।

कुछ लोग खुद को उन लोगों से compare करते हैं जिन्होंने 5 साल पहले शुरुआत की थी। आप उनसे खुद को compare करेंगे तो आपको निराशा ही हाथ लगेगी। क्योंकि उन्होंने आपसे ज्यादा समय दिया है और उनके पास आपसे ज्यादा experience भी होगा उस field के बारे में।

तो खुद को दूसरों से नहीं खुद को खुद से compare करिए और खुद को खुद से ही बेहतर बनाने की कोशिश करिए।

5. खुद को बुरा कहना

अगर आप खुद से कहते हैं कि आप से नहीं हो पाएगा तो यकीन मानिए आपसे वह काम कभी नहीं होगा। आपने सुना ही होगा कि इंसान जैसा सोचता है वैसा ही बन जाता है अगर आप खुद के बारे में अच्छा सोचते हैं तो आपके साथ अच्छा ही होगा अगर बुरा सोचते हैं तो बुरा।

तो कभी भी खुद से यह मत कहिए कि मेरे से नहीं हो पाएगा, मेरी किस्मत ही बुरी है, मैं इसके काबिल ही नहीं हूं!! इत्यादि।

हमें इसका उल्टा कहना चाहिए खुद को, कि मैं कर सकता हूं और करके ही दिखाऊंगा चाहे कुछ भी हो जाए।

6. असंभव का पीछा

अब आप कितना ही पॉजिटिव माइंड सेट और confidence से भरपूर इंसान ही क्यों न हो आप कुछ चीज़े नहीं कर सकते। अब आप कहे कि मैं उड़ना सीख लूंगा तो वह असंभव होगा। तो जब भी आप सफलता के लिए गोल सेट करें तो smart goal सेट करें अगर आप असंभव goals सेट करते हैं तो आप उन्हें कभी achieve नहीं कर पाओगे और अपने समय की बर्बादी करोगे।

दोस्तो सफलता हासिल करने से पहले आपको बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ेगा तो एक समय में एक परेशानी को हल करने की कोशिश करें और तब तक सफलता के रास्ते में ब्रेक मत मारे जब तक आप अपनी मंजिल पर ना पहुंचा।

सफलता के 6 दुश्मन। – Enemy of Success on Hindi. इस पोस्ट के बारे में आपकी क्या राय है हमे कमेंट section में बताए।

If you are an English reader then visit MEN 2 GENTLEMEN

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *