यह 5 बुरे गुण आपकी जिंदगी बर्बाद कर सकते हैं, Toxic Traits In Hindi,

यह 5 बुरे गुण आपकी जिंदगी बर्बाद कर सकते हैं। – Toxic Traits In Hindi.

Sharing is caring!

ययह 5 बुरे गुण आपकी जिंदगी बर्बाद कर सकते हैं। – Toxic Traits In Hindi. आप सभी को पता ही होगा कि जिंदगी बहुत छोटी होती है और आप नहीं चाहेंगे कि यह छोटी सी जिंदगी कुछ बुरे गुणों और आदतों की वजह से बर्बाद हो जाए। लेकिन जाने अनजाने में हम इन आदतों को अपनी जिंदगी पर बुरा असर डालने देते हैं।

इन गुणों के कारण हम अपनी जिंदगी में बहुत कुछ हासिल कर पाने से वंचित रह जाते हैं जो जिंदगी भर हमारे चिड़चिड़ेपन का कारण बन जाता है। तो ज्यादा देर होने से पहले उन आदतों और गुणों का अपनी जिंदगी से बाहर निकाल दीजिए।

मैं आपके साथ ऐसे पांच गुण शेयर करने जा रहा हूं अगर आप में भी यह गुण है तो जग जाइए, ज्यादा देर होने से पहले।

यह 5 बुरे गुण आपकी जिंदगी बर्बाद कर सकते हैं। – Toxic Traits In Hindi

1. Not taking risk

दोस्तों रिस्क से नाम बनते हैं अगर आप रिस्क नहीं ले रहे हैं तो आप अपनी जिंदगी को बर्बाद कर रहे हैं। हम कई बार नया business start करने का, अपने जॉब से रिजाइन करने का, अपने सपनों का पीछा करने का रिस्क लेने से कतराते हैं।

रिस्क ना लेना ठहरे हुए पानी की तरह होता है, जो सिर्फ एक जगह पर रहता और वही सूख जाता है। अगर आगे बढ़ना चाहते हो तो आपको रिस्क लेना पड़ेगा।

जब भी आप risk ले तो इन बातों का ध्यान रखें।

● क्या फायदे या नुकसान हो सकते हैं।
● क्या मैं financially और mentally तैयार हूं? रिस्क लेने के लिए।
● क्या गलत हो सकता है उसके बारे में सोचें दूसरे क्या सोचते हैं उसकी परवाह ना करें।

सभी बातों को ध्यान में रखते हुए risk ले। डरना जायज है रिस्क लेने से पहले पर यह imagine करें कि अगर आप सफल हो गए तो आपकी जिंदगी कैसे होगी और बस फिर क्या मेहनत करिए उसे सच करने के लिए।

2. Problem में फसे रहना।

जिंदगी में परेशानियां हमें कुछ सिखाने के लिए ही आती हैं। हम सब की लाइफ में परेशानियां होती है। परेशानियां या दुख अनेक रूप में आ सकते हैं जैसे कि ब्रेकअप, बीमारी, जॉब से निकाल देना, बिजनेस में घाटा, इत्यादि और इन परिस्थितियों में पॉजिटिव माइंड सेट बनाए रखना बहुत कठिन हो सकता है।

लेकिन हमें कैसे ना कैसे इन परिस्थितियों का सामना करना होगा अगर आप खुद को नकारात्मक विचारों से घेर लोगे तो आप कभी भी खुद को बेहतर इंसान नहीं बना पाएंगे। तो जिंदगी जब भी आपको पटके तो फिर से खड़े होने का दम रखें। प्रॉब्लम्स में फंसे रहने के बजाय उनका सामना करना सीखिए और जिंदगी की गाड़ी को आगे बढ़ाते रहिए!

3. खुद का ध्यान ना रखना।

किसी की जिंदगी में परेशानियों की लाइन लगी हुई है तो कोई सफलता हासिल करने के लिए दिन रात एक कर रहा है। जिंदगी की इस उतार-चढ़ाव में हम खुद का ध्यान रखना तो भूल ही जाते हैं।

हम tension, frustration, stress, sleeplessness से घिर जाते हैं जिसका असर हमारे मेंटल हेल्थ पर पड़ता है। ऐसे में इंसान छोटी छोटी बातों से चिड़चिड़ा हो जाता है।

कभी आपके साथ ऐसा हुआ है कि आप कुछ काम कर रहे हैं और एकदम आप भूल जाते हैं कि मैं कर क्या रहा था अगर आपके साथ भी ऐसा हुआ है तो आपको ब्रेक की जरूरत है।

खुद को शांत रखे, काम से ब्रेक ले, मेडिटेशन करे, नहीं तो यह toxic trait आपकी जिंदगी बर्बाद कर देगा। यह सोचिए कि कैसे आप अपने मेंटल हेल्थ को इंप्रूव कर सकते हैं। सबसे बड़ा धन हमारा स्वास्थ्य है और चंद कागज के टुकड़ों के लिए इसके साथ खिलवाड़ मत करिए।

How to achieve peace of mind in Hindi – दिमाग को शांत कैसे रखें।

4. खुद को कम आंकना।

खुद को नीचा दिखाना एक नकारात्मक विचारधारा है जो आपको आगे बढ़ने नहीं देता। किसी दूसरे की बजाय हम ही खुद को discourage और demotivate करते हैं। इससे बुरा हमारे मनोबल को तोड़ने के लिए क्या हो सकता है?

सोचिए आप कोई काम start करते हैं और बहाने ढूंढना शुरु कर देते हैं कि क्यों आप वह काम नहीं कर सकते और आप उस काम को छोड़ देते हैं। ऐसा सब के साथ हुआ होगा।

ऐसा करके आप खुद को boundary के अंदर कैद कर रहे हैं और आप ने यह मान लिया है कि आप उस boundary को पार नहीं कर सकते। मैंने भी जब blogging start किया था तो मुझे ब्लॉगिंग के बारे में कुछ भी नहीं पता था लेकिन मेरा एक गोल था जिसे पूरा करना ही मेरे जीवन का एकमात्र लक्ष्य बन चुका था और आज मैं खुश हूं कि मैंने ब्लॉगिंग में अपना कदम रखा और मैं अपने goal की तरफ आगे बढ़ रहा हूं।

तो दोस्तों कोशिश करने से पहले ही हार नहीं माननी है खुद पर भरोसा रखिए कि आप कर सकते हैं और आप कुछ भी achieve कर सकते हैं।

5. अतीत की गलतियों पर पछताना।

आप अपने अतीत में की गई गलतियों के बारे में सोच कर कितना ही पछता लो आप उन गलतियों को सुधार नहीं सकते। लेकिन इनके बारे में सोचना छोड़के और वर्तमान में मेहनत करके आप अपना भविष्य जरूर सुधार सकते हैं।

आप यह मानने को क्यों तैयार नहीं है कि वह घटनाएं घट चुकी हैं उनके बारे में सोच कर कुछ फायदा नहीं है। आपको आगे बढ़ने की जरूरत है और दूसरी बात अगर past में किसी काम को करने में असफल हुए थे तो जरूरी नहीं कि आप आज भी असफल होंगे दोबारा कोशिश करने से डरे नहीं।

अगर बिजनेस स्टार्ट करने के पहले attempt में सफलता नहीं मिली तो सोचिए कि क्यों मैं सफल नहीं हो पाया और गलतियों को सुधार कर फिर से कोशिश करें। लेकिन अगर आप अपने अतीत का रोना रोते रहोगे तो कभी भी आगे नहीं बढ़ पाओगे और सकारात्मक बदलाव नहीं ला पाओगे अपनी जिंदगी में।

यह 5 बुरे गुण आपकी जिंदगी बर्बाद कर सकते हैं। – Toxic Traits In Hindi. इस पोस्ट के बारे में आपकी क्या राय है हमे कमेंट section में बताए।

If you are an English reader then visit MEN 2 GENTLEMEN

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *